सिटी न्यूज़

टिकैत फिर धरने पर… बोले- टेनी की बर्खास्तगी तक चलेगा किसानों का प्रदर्शन

टिकैत फिर धरने पर… बोले- टेनी की बर्खास्तगी तक चलेगा किसानों का प्रदर्शन
UP City News | Aug 19, 2022 12:03 PM IST

लखनऊ. बीजेपी के लिए सिरदर्द बने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी ने एक बार फिर टेंशन बढ़ा दी है. किसान नेता राकेश टिकेत के लखीमपुर खीरी में 75 घंटे तक धरने पर बैठने के साथ ही सूबा के मुरादाबाद, मुजफ्फरपुर समेत कई जिलों में प्रदर्शन तेज हो गए है. किसान, टेनी की बर्खास्तगी समेत तिकुनिया हिंसा कांड में जेल में बंद किसानों की रिहाई की मांग को लेकर धरने पर डटे हैँ. राकेश टिकैत ने ऐलान किया है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी तक किसानों का आंदोलन चलता रहेगा.

इसके अलावा टिकैत ने लखीमपुर खीरी के प्रशासन को भी धरना स्थल पर पानी की व्यवस्थाएं न करने के लिए लताड़ लगाई. उन्होंने कहा, यहां का प्रशासन अपने दिमाग को ठीक कर ले। पानी की व्यवस्था कर दे। अगर सुविधा नहीं दोगे तो हम सुविधा लेना जानते हैं।

लखीमपुर खीरी की कृषि मंडी में किसानाें का जमावड़ा
यहां की राजापुर कृषि मंडी में शेड नंबर 4, 5, और 6 में भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकेट 31 किसान संगठनों के साथ 18 अगस्त से 75 घंटे के लिए धरने पर बैठे हैं. समय बीतने के साथ ही किसानों की भीड़ बढ़ती जा रही है. सुरक्षा के लिहाज से मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है.

किसानों की मांग है कि अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त करने के साथ ही जेल भेजा जाए.एमएसपी पर गारंटी कानून जल्द बने और बिजली बिल- 2020 रद्द किया जाए. किसानों का कहना है कि बढ़ती महंगाई से जनता परेशान है इसलिए खाद, डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस के दाम आधे किए जाएं. किसान आंदोलन के दौरान किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएं. देश के किसान कर्ज के बोझ तले दबकर आत्महत्या को मजबूर हैं, इसलिए सरकार उनका कर्ज माफ करे. शुगर मीलो से किसानों के बकाए का तत्काल भुगतान कराया जाए.

जलियांवाला बाग कांड से कम नहीं तिकुनिया हिंसा: योगेंद्र यादव
किसान नेता योगेंद्र यादव ने कहा, कि ‘तिकुनिया हिंसा’ जलियांवाला बाग कांड से कम नहीं थी। हिंसा के मुख्य सूत्रधार केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को बर्खास्त किया जाए। उनपर बहुत सारे मुकदमे हैं, लेकिन भाजपा उनकी जांच नहीं करवा रही है।

मुजफ्फरनगर जिला मुख्यालय पर किसानों का प्रदर्शन
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत के आह्वान पर भाकियू कार्यकर्ताओं  जिला मुख्यालय पर  धरने पर बैठे हैँ. महानगर अध्यक्ष गुलबहार राव ने अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ किया जा रहा है. जिला मुख्यालय पर चल रहे धरने पर किसान डटे हैं, कचहरी परिसर के बाहर भाकियू का धरना शुरू हो जाने के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

भारी संख्या में मौजूद पुलिस बल सुरक्षा व्यवस्था का जिम्मा संभाले हैं, जनपद का खुफिया विभाग भी अलर्ट है और लगातार आला अधिकारियों को भाकियू कार्यकर्ताओं की रिपोर्ट दे रहे है। धरने में पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती जिलों के किसान शामिल हो रहे हैं।