सिटी न्यूज़

एनएफटी के आने से फीका पड़ जाएगा बिटकॉइन, जानें क्या है इसकी वजह

एनएफटी के आने से फीका पड़ जाएगा बिटकॉइन, जानें क्या है इसकी वजह
UP City News | Jan 09, 2022 01:07 PM IST

नईदिल्ली. शार्क शार्क टैंक निवेशक केविन ओ'लेरी का मानना है कि आने वाले समय में बिटकॉइन का नहीं, बल्कि एनएफटी (नॉन फंजिबल टोकन्स) का है. ओ'शेयर्स इन्वेस्टमेंट एडवाइजर्स के अध्यक्ष ओ'लेरी ने एक इंटरव्यू में बोला है कि अगले कुछ वर्षों के लिए रियल इस्टेट टैक्स और बीमा पॉलिसियों की तुलना में NFT ट्रेंड तरल बाजार को सपोर्ट करेगी. यह केविन की खुद की टिप्पणियों के विपरीत है, जहां उन्होंने पहले कहा था कि Bitcoin के खिलाफ कोई भी क्रिप्टो एसेट खड़ी नहीं हो सकती है.

ये भी पढ़ें: देश के तमाम क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज आए जीएसटी महानिदेशालय के रडार पर, जानें क्या है इसकी वजह

 

O'Leary ने कहा कि आप अगले कुछ वर्षों में ऑथेंटिकेशन, बीमा पॉलिसियों और रियल इस्टेट टैक्स ट्रांस्फर जैसे कार्यों को ऑनलाइन करने के मामले में तेज़ी देखेंगे, जिससे एनएफटी बिटकॉइन की तुलना में अधिक तरल बाजार बन सकता है. उन्होंने आगे यह भी कहा कि वह "इस समीकरण के दोनों पक्षों पर निवेश कर रहे हैं. ओ'लेरी ने यह भी कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से क्रिप्टोकरेंसी में भी निवेश करते हैं. उन्होंने खुलासा किया है कि उनके क्रिप्टो पोर्टफोलियो का सबसे बड़ा हिस्सा Ether में है, जबकि उनके पास Bitcoin, Solana और Polygon जैसे अन्य टोकन भी हैं. बहुत से लोगों ने 2020 में एनएफटी के बारे में नहीं सुना था, लेकिन 2021 में यह एक ट्रेंड बन गया है. डिसेंट्रलाइज्ड एप्लिकेशन डिस्कवरी एंड एनालिसिस प्लेटफॉर्म DappRadar की रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2021 के लिए एनएफटी ट्रेडिंग वॉल्यूम 23 बिलियन डॉलर (लगभग 1,71,297 करोड़ रुपये) को पार कर गया, क्योंकि मशहूर हस्तियों, गेमिंग टीम्स और बड़े ब्रांडों ने बाजार में प्रवेश किया.DappRadar रिपोर्ट बताती है कि 2020 के आंकड़ों की तुलना में 2021 में NFT की सेल में 230 गुना बढ़ोतरी हुई, जो पहले केवल 100 मिलियन डॉलर (लगभग 744.94 करोड़ रुपये) थी. हालांकि, बाजार की स्थिरता को लेकर चिंताएं भी हैं. इस मार्केट में धोखाधड़ी भी है. हाल के महीनों में कुछ निवेशक अनियंत्रित टोकन सेल के जरिए स्टार्टअप पर दांव लगाकर मूर्ख बने. धोखाधड़ी और चोरी की आर्ट के कई मामले भी सामने आ चुके हैं, जो कुछ ट्रेडर्स के लिए खतरे की घंटी हैं.