सिटी न्यूज़

बरेली में बीडीए ने 28 अवैध निर्माणों को बुलडोजर से ढहाया, 30 करोड़ की जमीन मुक्त

बरेली में बीडीए ने 28 अवैध निर्माणों को बुलडोजर से ढहाया, 30 करोड़ की जमीन मुक्त
UP City News | May 13, 2022 11:42 AM IST

बरेली. बरेली में 28 अवैध निर्माणों पर बीडीए ने बुलडोजर चलवा दिया. जिसमें बीडीए ने 30 करोड़ की जमीन मुक्त करवा दी. बरेली विकास प्राधिकरण ने गुरुवार को बिथरी चैनपुर थाने के रामगंगा नगर में कार्रवाई की. जिसमें रामगंगा नगर आवासीय योजना की जमीन पर कब्जा करने वाले 28 अवैध निर्माणों को तोड़ दिया गया. यह कार्रवाई बीडीए के वीसी जोगेंदर सिंह ने की. खाली कराई गई जमीन की कीमत बीडीए ने 30 करोड़ रुपए आंकी है.

बीडीए डोहरा रोड पर रामगंगानगर आवासीय योजना के तहत कॉलोनियां विकसित कर रहा है. सैकड़ों लोगों को यहां आवास और प्लॉट दिए जा रहे हैं. साथ ही सरकारी विभागों को भी बीडीए ने यहां जमीन दी है. यहीं पर बीडीए अपना कार्यालय बना रहा है. इस योजना की कुछ जमीन पर दर्जनों लोगों ने कब्जा कर लिया था. वर्षों से यह कब्जा चला आ रहा था. बीडीए ने कब्जेदारों को ऑफर दिया कि वे जमीन खाली कर दें तो उन्हें सस्ती दरों पर किस्तों में प्लॉट उपलब्ध करा दिए जाएंगे. कुछ लोगों ने इस ऑफर को स्वीकार किया लेकिन 28 से अधिक कब्जेदारों ने इसे ठुकरा दिया.

सोमवार को बीडीए सचिव योगेंद्र कुमार के नेतृत्व में अधीक्षण अभियंता राजीव दीक्षित, अधिशासी अभियंता आशू मित्तल आदि बुलडोजर लेकर रामगंगानगर आवासीय क्षेत्र में पहुंचे. वहां पक्के अवैध निर्माणों को बुलडोजर से ढहा दिया गया. बीडीए उपाध्यक्ष जोगिंदर सिंह ने बताया कि अवैध कब्जेदारों ने वर्ष 2004 में जमीन पर कब्जा कर फर्जी बैनामा करा लिया था. बीडीए की टीम ने अवैध निर्माण गिरा दिए हैं.

बीडीए डोहरा रोड पर रामगंगानगर आवासीय योजना के तहत कॉलोनियां विकसित कर रहा है. सैकड़ों लोगों को यहां आवास और प्लॉट दिए जा रहे हैं. साथ ही सरकारी विभागों को भी बीडीए ने यहां जमीन दी है. यहीं पर बीडीए अपना कार्यालय बना रहा है. इस योजना की कुछ जमीन पर दर्जनों लोगों ने कब्जा कर लिया था. वर्षों से यह कब्जा चला आ रहा था. बीडीए ने कब्जेदारों को ऑफर दिया कि वे जमीन खाली कर दें तो उन्हें सस्ती दरों पर किस्तों में प्लॉट उपलब्ध करा दिए जाएंगे. कुछ लोगों ने इस ऑफर को स्वीकार किया लेकिन 28 से अधिक कब्जेदारों ने इसे ठुकरा दिया.