सिटी न्यूज़

प्रदेश में पहली बार बिना रैली के होंगे विधानसभा चुनाव

प्रदेश में पहली बार बिना रैली के होंगे विधानसभा चुनाव
UP City News | Jan 08, 2022 07:01 PM IST

विधान चुनाव का समय करीब है सभी पार्टी के कार्यकर्ता अपनी तैयारी में लगे है. चुनाव को जीतने की रणनीतियां बनाई जा रही है और कार्यकर्ता काफी तेजी से काम कर रहे है. जगह — जगह रैलीयां, आयोजन किए जा रहे है. इसी बीच कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या भी बढ़ रही है. एक तरफ कोरोना का कहर, दूसरी तरफ चुनाव का समय. इसी बीच एक चौंकाने वाली बात सामने आई है, देश के इतिहास में पहली बार चुनाव बिना रैली के आयोजित किए जाएंगे. कोरोना की तीसरी लहर के चलते निर्वाचन आयोग ने आज पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में तमाम बंदिशें से लगा दी हैं जिसके बाद किसी भी राजनीतिक दल के नेता कोई चुनावी जनसभा नहीं कर पाएंगे. ‌शनिवार की शाम को चुनाव आयोग ने 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का एलान किया है. उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में 7 चरणों में चुनाव होगा जिसकी शुरूआत 10 फरवरी को उत्तर प्रदेश से होगी वहीं नतीजों की घोषणा की बात करें तो, सभी राज्यों के चुनावों के नतीजे 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे.

किसी भी तरह की रैली की 15 जनवरी तक नहीं है इजाजत
कोरोना के बढ़ते केसों के बीच चुनाव आयोग ने यह फैसला लिया है. इसी के साथ चुनाव आयोग ने कहा— कि कोरोना के बढ़ते केसों के बीच 5 राज्यों के विधानसभा चुनाव में सख्त प्रोटोकॉल का पालन कराया जाएगा साथ ही किसी भी तरह के रोड शो, रैली, पद यात्रा, साइकिल और स्कूटर रैली की इजाजत 15 जनवरी तक नहीं मिलेगी. वर्चुअल रैली के जरिए ही चुनाव प्रचार की इजाजत होगी. इसी के साथ साथ जीत के बाद किसी तरह के विजय जुलूस भी नहीं निकाला जाएगा. मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने यह भी कहा— कि देश में 5 राज्यों की 690 विधानसभाओं में चुनाव कराए जाएंगे और 18.34 करोड़ मतदाता चुनाव में हिस्सा लेंगे. कोरोना के बीच चुनाव कराने के लिए नए प्रोटोकॉल भी लागू किए जाएंगे. इसी के साथ सभी चुनाव कर्मियों को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगी होनी चाहिए, जिन्हें जरूरत होगी, उन्हें प्रिकॉशन डोज भी लगाई जाएगी.