सिटी न्यूज़

एटा-मैनपुरीः उपद्रवियों ने पहले खेली खून की होली फिर लूट ले गए मतपेटियां

एटा-मैनपुरीः उपद्रवियों ने पहले खेली खून की होली फिर लूट ले गए मतपेटियां
UP City News | Apr 20, 2021 01:30 PM IST

एटा. उत्तर प्रदेश में चल रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जमकर बवाल और फायरिंग हो रही है. दो चरणों में हुए मतदान में जमकर मरपीट के साथ मतपेटियां भी लूटी गईं. एटा में तो मतदान से पहले खूनी होली खेली गई. फायरिंग में समर्थक की मौत हो गई तो प्रत्याशी पति गंभीर रूप से घायल हो गया. डीएम डॉ. विभा चहल ने तीनों बूथों पर फिर से मतदान कराने का आदेश दिया है. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान एटा और मैनपुरी में जमकर बवाल हुआ.एटा जिले में मतदान के दौरान मतपत्र लूटने लूटे गए तो पुलिस की जमकर पिटाई भी हुई. वही मैनपुरी में कई जगह पर फायरिंग और पथराव की घटना सामने आईं.
उत्तर प्रदेश में एटा जिले के राजा का रामपुर क्षेत्र के गांव अकेला में उपद्रवियों ने एक सिपाही व होमगार्ड को घायल कर तीन मत पेटिका लूटकर ले गए. वहीं सूचना पर पहुंचे जोनल मजिस्टेट की कार को ट्रैक्टर लगाकर रोक दिया. इतना ही नहीं उन पर जमकर पथराव भी किया जिसमें वे बाल-बाल बच गए. डीएम डॉ विभा चहल ने तीनों बूथों पर फिर से मतदान कराने का आदेश दिया है. वही गांव सहोरी में उपद्रवी मतपत्र लूट कर भाग गए. यहां एक घंटे तक मतदान रुका रहा. गांव नगला दयाल में मारपीट में प्रधान पद प्रत्याशी प्रेम सिंह घायल हो गए. निधौलीकला क्षेत्र के गांव रामनगर में प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने पर दो लोगों पर गोलियां चला दीं. यहां पर फर्जी मतदान को लेकर एक पक्ष ने फायरिंग कर दी. विकासखंड की ग्राम पंचायत में दो पक्षों में मारपीट की घटनाओं के बीच वोट डालने को लेकर विवाद हुआ. उसके बाद पथराव और फायरिंग हो गई. नगर फरैंजी में भाजपा के बूथ इंचार्ज को जमकर पीटा.
एटा में राजा के रामपुर गांव के लाइन स्थित मतदान केंद्र अति संवेदनशील प्लस था और मजबूत सुरक्षा व्यवस्था का दावा किया गया था लेकिन उपद्रवियों की हिमाकत के आगे सब इंतजाम धरे के धरे रह गए. उन्होंने न सिर्फ सिपाहीऔर होमगार्ड को पीटकर घायल कर दिया बल्कि मत पत्र भी लूट ले गए. लिए इसके अलावा जोनल मजिस्ट्रेट पर भी हमला किया
बता दें कि मतदान समाप्ति के बाद उपद्रवियों ने यहां हमला किया उन्हें देख मत मतदान कर्मियों ने बूथों के दरवाजे अंदर से बंद कर दिए लेकिन उपद्रवी दरवाजे तोड़कर अंदर घुस गए. रोकने पर सिपाही का सिर फाड़ दिया और होमगार्ड को बंधक बनाकर जमकर पीटा तीनों मतपेटियां लूट कर ले जाने लगे. इसी दौरान सूचना पाकर पहुंचे जोनल मजिस्ट्रेट पंकज कुमार की गाड़ी को उपद्रवियों ने ट्रैक्टर लगाकर रोक दिया और पथराव करने लगे. वह किसी तरह से अपनी जान बचाकर भागे.
मतदान से पहले यहां हुआ था बवाल
एटा के थाना कोतवाली देहात क्षेत्र के गांव बावसा में रविवार की देर रात प्रधान पद के दो प्रत्याशियों के बीच विवाद हो गया. दोनों प्रत्याशियों ढेर सारे समर्थक भी मौजूद रहे. देखते ही देखते विवाद ने हिंसक रूप ले लिया. दोनों ओर से पथराव और फायरिंग होने लगीं. इस दौरान गोली एक प्रत्याशी के समर्थक प्रदीप कुमार जैन को लग गई. वो लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा. सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई. पुलिस ने प्रदीप को जिला अस्पताल भर्ती कराया जहां पर डाॅक्टरों ने प्रदीप को मृत घोषित कर दिया. वहीं दूसरी घटना रविवार को देर रात कोतवाली नगर के गांव गंगनपुर में हुई. यहां दो प्रत्याशियों के बीच हुए विवाद में गोली लगने से प्रधान पद प्रत्याशी सुमन यादव के पति प्रवीण कुमार घायल हो गया. उसे पहले तो जिला अस्पताल लाया गया लेकिन हालत गंभीर होने पर उसे आगरा रेफर किया गया है.