सिटी न्यूज़

पिता की जिंदगी बचाने के लिए अविवाहित बेटी ने किया लीवर दान

पिता की जिंदगी बचाने के लिए अविवाहित बेटी ने किया लीवर दान
UP City News | Jul 22, 2021 09:06 PM IST

अलीगढ़. नोएडा के फोर्टिस हॉस्पिटल ने अलीगढ़ के मैक्सफोर्ट हॉस्पिटल में लीवर एवं गैस्ट्रो इंटेस्टाइनल रोगों के लिए ओपीडी फिर से शुरू की. इस मौके पर डॉ. मुकुल रस्तोगी अलीगढ़ के उस मरीज के साथ मौजूद थे, जिनके लीवर ट्रांसप्लांट की सर्जरी की गई. लीवर दान करने वाली मरीज की बेटी ही थी.

पीड़ित को आता था तेज बुखार
फोर्टिस हॉस्पिटल नोएडा में हीपैटोलॉजी एंड लीवर ट्रांसप्लांट (मेडिकल) के अतिरिक्त निदेशक और प्रमुख डॉ. मुकुल रस्तोगी ने कहा कि 45 साल के इस मरीज को लगभग दो साल से तेज बुखार आता था. बुखार खत्म करने के लिए उन्होंने दवाई भी ली लेकिन धीरे-धीरे पेट में पानी भरने, टांगों में सूजन, पीलिया और नाक से खून जाने जैसी शिकायत होने लगीं. उन्होंने फोर्टिस हॉस्पिटल में दिखाने का फैसला किया. जांच से पता चला कि डायबिटीज के कारण उन्हें लीवर सिरोसिस है. यह इतनी विकराल स्थिति में पहुंची कि लीवर ट्रांसप्लांट ही विकल्प बचा. उनके परिवारवालों को लीवर दान कर ट्रांसप्लांट सर्जरी और जिंदगी बचाने के लिए इसके फायदों के बारे में बताया गया। उनकी अविवाहित बेटी अपना लीवर दान करने को तैयार हो गई.

दाता की सर्जरी प्रक्रिया हुई उन्नत
पिछले कुछ वर्षों के दौरान दाता की सर्जरी प्रक्रिया उन्नत और बहुत सुरक्षित हो गई है. उन्होंने दावा किया है कि फोर्टिस नोएडा के पास लेपरोस्कोपिक लीवर डोनर लीवर सर्जरी नामक तकनीक है. फोर्टिस हॉस्पिटल के क्षेत्रीय निदेशक मोहित सिंह ने कहा कि हाल की प्रगति और क्षेत्रीय कनेक्टिविटी में आए सुधार से इस क्षेत्र का कोई भी मरीज आपात स्थिति में बहुत कम समय में नोएडा स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल पहुंच सकता है.

हर चौथे गुरुवार को होगी ओपीडी
नोएडा के फोर्टिस हॉस्पिटल की ओपीडी में सुपर स्पेशियल्टी सेवाएं देने वाली व्यवस्था होगी. पेडियाट्रिक गैस्ट्रोइंटेरोलॉजी एवं हीपैटोलॉजी क्षेत्र के विशेषज्ञ परामर्श देने के लिए उपलब्ध होंगे.
यह विशेष ओपीडी सेवाएं हर महीने के चौथे बृहस्पतिवार को उपलब्ध रहेंगी. यहां अलीगढ़ और आसपास के क्षेत्रों के मरीजों को न सिर्फ विशेषज्ञों की सलाह दी जाएगी, बल्कि प्राथमिक परामर्श लेने के लिए भी उन्हें मेट्रो शहर जाने से भी मुक्ति मिल जाएगी.