सिटी न्यूज़

अलीगढ़: जिपं अध्यक्ष के लिए भाजपा, सपा के साथ निर्दलीय ने भी किया का दावा

अलीगढ़: जिपं अध्यक्ष के लिए भाजपा, सपा के साथ निर्दलीय ने भी किया का दावा
UP City News | May 03, 2021 10:56 PM IST

अलीगढ़. जिला पंचायत सदस्यों के विजयी प्रत्याशियों की घोषणा के बाद अब पार्टियां अपने-अपने जिला पंचायत अध्यक्ष को लेकर गठजोड में जुट गई हैं. समाजवादी पार्टी के मीडिया प्रभारी रत्नाकर पांडे ने यहां तक दावा कर दिया कि इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट उनके खाते में होगी. जबकि भाजपा के कुछ नेता तो यह दावा कर रहे हैं कि उनके पास 9 सदस्य हैं, जो बागी होकर चुनाव लड़े 6 प्रत्याशी को भी मना लिया जाएगा. क्योंकि घर में चार वर्तन होते हैं तो वह खटकते ही हैं.

अब भाजपा को दोबारा सीट पर कब्जा करने के लिए 9 जिला पंचायत सदस्यों की जरूरत रह गई है. राजनीतिक पार्टियों के दिग्गज अपनी-अपनी देहात की सरकार बनाने के लिए तिकड़म लगाने पर जुटी हुई हैं. कहीं ऐसा न हो कि सपा और भाजपा की जगह कहीं तीसरा विकल्प सामने न आ जाए. सोमवार देर शाम से देर रात तक राजनीतिक दलों के दिग्गजों ने अपने दिमाग को और तेजी के साथ घुमाना शुरू कर दिया है.

पाटियों ने कहा हमने दिया इनको समर्थन और जीते चुनाव
समाजवादी ने दावा किया है कि उन्होंने प्रत्याशी वार्ड नंबर 1 से विजेंद्र सिंह, वार्ड नंबर 2 से विनेश कुमार, वार्ड नंबर 4 से मुकेश कुमार, वार्ड नंबर 5 से सुरेश चैधरी, वार्ड नंबर 43 से अर्चना यादव, वार्ड नंबर 44 से राठी यादव, वार्ड नंबर 45 से बबलू होलकर, वार्ड नंबर 46 से संजय दिवाकर, वार्ड नंबर 41 से विजेंद्र सिंह, वार्ड नंबर 42 से अर्जुन यादव, वार्ड नंबर 36 से सुमन सिंह और वार्ड नंबर 17 से जितेंद्र कुमार को अपना समर्थन दिया और वह चुनाव जीत गए.

वहीं रालोद ने दावा किया कि उन्होंने वार्ड संख्या 17 से लक्ष्मी देवी, वार्ड संख्या 18 से नीरज सोलंकी, वार्ड संख्या 22 से कुलदीप चौधरी, वार्ड संख्या 23 से प्रदीप चौधरी, वार्ड संख्या 26 से ममता चौधरी, वार्ड संख्या 28 से अमित ठेंनुआ, वार्ड संख्या 31 से राजकुमारी, वार्ड संख्या 29 से सुलेखा को अपना समर्थन दिया और वह चुनाव जीतीं. बसपा जिलाध्यक्ष रत्नदीप सिंह ने कहाकि वार्ड संख्या 20 से बेबी शर्मा, वार्ड संख्या 14 से धर्मवती, वार्ड संख्या 13 से पिंकी सिंह, वार्ड संख्या 11 से फारूख अहमद, वार्ड संख्या 03 से सुमन, वार्ड 35 से रानी चुनाव जीतीं हैं.