सिटी न्यूज़

हैरत : दो साल पहले जिस डॉक्टर की हो गई थी मौत, उन्हें आजमगढ़ का नया सीएमएस बना दिया गया

हैरत : दो साल पहले जिस डॉक्टर की हो गई थी मौत, उन्हें आजमगढ़ का नया सीएमएस बना दिया गया
UP City News | Jul 17, 2021 11:40 AM IST

प्रयागराज. शहर के मोतीलाल नेहरू मंडलीय अस्पताल (काल्विन) के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. वीके मलहोत्रा के नाम से करीब-करीब सभी वाकिफ हैं. डॉ. मेहरोत्रा की दो साल पहले मौत हो चुकी है और सरकारी व्यवस्था का हाल तो देखिए कि उन्हें आजमगढ़ का नया सीएमएस नियुक्त कर दिया गया. दरअसल, गत 15 जुलाई को शासन स्तर से जारी शासनादेश में उनकी तैनाती का आदेश जारी हुआ है. इसको लेकर सरकारी व्यवस्था पर सवाल तो उठ ही रहें हैं साथ ही काफी किरकिरी भी हो रही है.

बता दें कि स्वास्थ्य सचिव रवींद्र की ओर से जारी पत्र में 15 जुलाई को प्रदेश भर के 17 चिकित्सकों के स्थानांतरण का आदेश जारी किया था. इस सूची में दसवें नंबर पर प्रयागराज में मोतीलाल नेहरू मंडलीय अस्पताल के वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञ डा. बसंत कुमार मेहरोत्रा का भी नाम दर्ज है. खास बात यह कि उनकी मौत दो साल पहले हो चुकी है.

शासनादेश के अनुसार डा. बसंत कुमार मेहरोत्रा को मोतीलाल नेहरू मंडलीय अस्‍पताल (काल्विन) से स्थानांतरित कर आजमगढ़ जनपद के तरवा स्थित सौ बेड वाले संयुक्त चिकित्सालय में बतौर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के पद पर भेजा गया है. आदेश में यह भी लिखा है कि वह स्वत: कार्यमुक्त होकर अपनी नवीन तैनाती स्थल एवं पद पर तत्काल कार्यभार ग्रहण कर शासन को सूचित करें.