सिटी न्यूज़

बस नौकरी मिलने ही वाली थी, दौड़ भी पूरी कर ली लेकिन मौत ने रोक लिए कदम, पढ़ें क्या है पूरा मामला

बस नौकरी मिलने ही वाली थी, दौड़ भी पूरी कर ली लेकिन मौत ने रोक लिए कदम, पढ़ें क्या है पूरा मामला
UP City News | Oct 21, 2021 08:42 AM IST

वाराणसी. उत्तर प्रदेश के वाराणसी (Varanasi) में मृतक आश्रित कोटे के तहत की जा रही जिला होमगार्ड कमांडेंट (District Home Guard Commandant) की ओर से भर्ती (Recruitment) में एक ऐसी घटना हो गई, जिससे हर कोई विचलित हो गया. दरअसल, दौड़ पूरी करने के बाद एक अभ्यर्थी बैठ गया और कार्यालय में दूसरी औपचारिकताएं पूरी करने की तैयारी हो रही थी कि वो अचेत हो गया और उसके प्राण—पखेरु उड़ गए. ये देखकर वहां सभी हैरान रह गए. मृत का शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.

जानकारी के मुताबिक जिला होमगार्ड कमांडेंट की ओर से मृतक आश्रित कोटे के तहत कराई जा रही थी. भर्ती में बुधवार सुबह दौड़ का आयोजन किया गया था. इस दौड़ में भाग लेने के लिए एक महिला और तीन पुरुष अभ्यर्थियों को बुलाया गया था. महिला की 500 मीटर और पुरुषों की 10 मिनट में दो किमी की दौड़ पूरी करा ली गई थी. वहीं छावनी स्थित करियप्पा मार्ग पर दौड़ पूरी करने के बाद मंडुवाडीह थाना क्षेत्र के नाथूपुर निवासी अखिलेश कुमार (26) अचानक बैठ गया. बताया गया कि थोड़ी ही देर में अचेत होकर गिर गया. उसे अस्पताल ले जाया गया.

जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. उसका शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. अधिकारियों के मुताबिक हादसा उस वक्त हुआ जब दौड़ पूरी कराने के बाद सभी कार्यालय के लिए अन्य औपचारिकताएं पूरी करने निकलने वाले थे. तभी अखिलेश कुमार अचानक अचेत हो गया. उसे तत्काल विभागीय अफसरों ने मंडलीय अस्पताल पहुंचाया तो लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी. अखिलेश की मौत की खबर सुनकर परिजनों के पैरो तले जमीन खिसक गई. सभी का रो—रोकर बुरा हाल हो गया था.