सिटी न्यूज़

12 जून के पंचायत सदस्य चुनाव में ड्यूटी देगा कोरोना से मर चुका शिक्षक, हुआ है आदेश!

12 जून के पंचायत सदस्य चुनाव में ड्यूटी देगा कोरोना से मर चुका शिक्षक, हुआ है आदेश!
UP City News | Jun 11, 2021 09:07 AM IST

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. शिक्षा विभाग और निर्वाचन आयोग की लापरवाही भी इससे साबित हो रही है. दरअसल, कोरोना संक्रमण के कारण मृत हो चुके एक शिक्षक की ड्यूटी 12 जून को होने वाले पंचायत सदस्यों के रिक्त पदों के चुनाव में लगा दी गई है. जब इसकी जानकारी मृतक शिक्षक के परिवारजनों को लगी तो उन्होंने रोष व्यक्त किया है. बताया कि अभी तक उन्हें कोई सरकारी सहायता भी नहीं मिली है और ऊपर से मृतक शिक्षक की ड्यूटी लगा दी गई.

गौरतलब है कि बहारिया ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय छाता के सहायक अध्यापक नंदलाल की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो गई थी. उन्हें कोरोना वायरस यूपी में हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान हुआ था. बताया गया कि आगामी 12 जून को होने वाले पंचायत सदस्यों के रिक्त पदों के चुनाव को लेकर उनकी ड्यूटी लगा दी गई है. इस संबंध में उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष देवेंद्र श्रीवास्तव का कहना है संघ इस बात का विरोध और निंदा करता है.

उनका कहना है कि इससे विभाग की संवेदनहीनता का पता चलता है. उन्होंने बताया कि पंचायत चुनाव के दौरान जब मृतक शिक्षक कोरोना वायरस की चपेट में थे थे तो उन्हें आईसीसीसी काोविड सेंटर में भर्ती कराया गया था. तब ​बेसिक शिक्षा अधिकारी ने उनकी सैलरी रोक दी थी. हमको इस बात का पता चला था विरोध करने के बाद सैलरी जारी की गई थी. अब जब उनका निधन हो गया है तो किसी तरीके की परिवार को लोगों को अभी तक सरकारी सहायता भी नहीं मिली है. अब लापरवाही का आलम यह है कि उनकी ड्यूटी चुनाव में लगा दी गई है.