सिटी न्यूज़

कांग्रेस के मार्च को पुलिस ने रोका तो हुआ हंगामा, श्री पारस हास्पिटल में कोरोना से मरे लोगों को श्रद्धांजलि

कांग्रेस के मार्च को पुलिस ने रोका तो हुआ हंगामा, श्री पारस हास्पिटल में कोरोना से मरे लोगों को श्रद्धांजलि
UP City News | Jun 11, 2021 09:11 AM IST

आगरा. शहर आगरा-दिल्ली हाईवे पर स्थित श्री पारस हॉस्पिटल के संचालक डॉ अरिंजय जैन का गत सोमवार को एक वीडियो खूब वायरल हुआ जिसमें डॉ. अरिंजय जैन हॉस्पिटल में भर्ती कोविड-19 मरीजों के ऊपर की गई आक्सीजन हटाए जाने की मॉक ड्रिल की बात कर रहे हैं. जिसमें 26 अप्रैल-2021 को कोविड-19 के भर्ती 96 मरीजों की मॉक ड्रिल में 5 मिनट तक ऑक्सीजन हटाई गई थी. इससे गंभीर 22 मरीजों की हालत खराब हो गई थी. वीडियो वायरल होने से जिले में हड़कंप मच गया है.मामला बड़ा तो आनन—फानन में श्री पारस हास्पिटल के संचालक डॉ. अरिंजय जैन के विरुद्ध स्वास्थ्य विभाग की ओर से मंगलवार देर शाम न्यू आगरा थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है. उन पर महामारी अधिनियम के उल्लंघन का आरोप है. इसके अलावा उन पर आईपीसी के सेक्शन 188, 505 और आपदा प्रबंधन अधिनियम के सेक्शन 52 और सेक्शन 54 की धाराएं लगी हैं. वहीं कांग्रेस हॉस्पिटल संचालक के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर हर रोज धरना प्रदर्शन कर रही है. गुरुवार को भी कांग्रेस ने कैंडल मार्च निकालकर मृतकों को श्रद्धांजलि दी तो अस्पताल संचालक पर हत्या का मामला दर्ज करने की मांग की गई.
दस जून की शाम 6:00 बजे कांग्रेस पार्टी द्वारा श्री पारस हॉस्पिटल के संचालक को गिरफ्तार करने के लिए एक कैंडल मार्च भगवान टॉकीज से पारस हॉस्पिटल तक निकाला गया जिसमें मार्च निकालने के दौरान न्यू आगरा एसएचओ द्वारा रोकने का प्रयास किया गया लेकि कांग्रेस कार्यकर्ता डटे रहे. पुलिस से मांग की कि हम संचालक को गिरफ्तार करने और वह 22 लोगों को श्रद्धांजलि देकर ही जाएंगे. श्री पारस हॉस्पिटल पहुंचकर वहां नारेबाजी कर कर 22 मृतकों को श्रद्धांजलि दी गई. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव अमित सिंह ने कहा कि शासन व प्रशासन डॉक्टर अरिंजय जैन को कहीं ना कहीं गिरफ्तार न कर कर यह साबित कर रहा है कि उसे पूरी तरीके से बचाया जा रहा है. 22 मौतों का वीडियो देखने पर उत्तर प्रदेश सरकार के दावों की पोल खोलती हैं जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और आगरा के जिलाधिकारी चिल्ला चिल्ला के कह रहे हैं की ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं थी जबकि वीडियो और डॉक्टर ने खुद स्वीकार किया है कि ऑक्सीजन हमारे पास नहीं थी. कांग्रेस पार्टी एक एक मृतक के परिवार को इंसाफ दिलाएगी. मार्च के दौरान मुख्य रूप से युवक कांग्रेस के नेता दीपक शर्मा, यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष हेमंत चाहर, बुरहान समसी ,एनएसयूआई जिलाध्यक्ष बिलाल अहमद ,सतीश सिकरवार, नेशनल कोऑर्डिनेटर मान्या शर्मा ,वरिष्ठ कांग्रेस मधुरिमा शर्मा, डॉक्टर राशिद चौधरी ,गीता सिंह तरुण सागर, सत्येंद्र दीक्षित ,नितिन प्रताप, अपूर्व शर्मा आकाश ,विकास ,सनी निवेश आदि कांग्रेस कार्यकर्ता ने उपस्थित होकर डॉक्टर की गिरफ्तारी व मृतकों को श्रद्धांजलि दी.