सिटी न्यूज़

आगरा: फीस वृद्धि की समस्या को लेकर केंद्रीय कानून राज्यमंत्री के पास पहुंचा फोटोग्राफर एसोसिएशन

आगरा: फीस वृद्धि की समस्या को लेकर केंद्रीय कानून राज्यमंत्री के पास पहुंचा फोटोग्राफर एसोसिएशन
UP City News | Jun 26, 2022 09:09 AM IST

आगरा. कोरोना संक्रमण के चलते स्मारकों पर पर्यटकों की संख्या हद से ज्यादा कम हो गई है. जिसके चलते फोटोग्राफरों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है. वही भारतीय पुरातत्व विभाग भी इनके जले पर नमक छिड़कने का काम कर रहा है. दरअसल पुरातत्व विभाग ने आर्थिक तंगी की मार झेल रहे ताजमहल के फोटोग्राफरों को अपना लाइसेंस रिन्यू कराने के लिए 25,000 रुपए जमा कराने का नोटिस जारी किया है. आपको बता दें कि फोटोग्राफरों को सत्र 2021 से 22 के लिए अपना लाइसेंस रिन्यू कराने के लिए 25,000 रुपए 30 जून 2022 से पहले ही जमा कराने का नोटिस जारी किया गया है.

अब एक तो कमाई नहीं ऊपर से पुरातत्व विभाग का यह तुगलकी फरमान. इस सब से परेशान होकर आज फोटोग्राफर एसोसिएशन के अध्यक्ष सर्वोत्तम के साथ सभी फोटोग्राफर भारत सरकार के केंद्रीय कानून राज्यमंत्री और सांसद प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल से मिलने पहुंचे और उन्हें फोटोग्राफरों की फीस वृद्धि की समस्या से अवगत कराया. फोटोग्राफर एसोसिएशन के अध्यक्ष ने अन्य फोटोग्राफरों के साथ भारत सरकार के संस्कृति मंत्री जी.किशन रेड्डी के नाम सांसद प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल को एक पत्र सौंपा. इस पत्र के जरिए एसोसिएशन के अध्यक्ष ने जल्द से जल्द फोटोग्राफरों की फीस में कमी करने की मांग की.

वहीं इस मामले को लेकर सांसद प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर विषय है फोटोग्राफरों की समस्या के लिए वे स्वयं संस्कृति मंत्री से मिलकर फोटोग्राफरों की परेशानी को उठाएंगे. इसके साथ ही उन्होंने फोटोग्राफरों को हर संभव मदद का भी आश्वासन दिया. आपको बतादे कि एसएसआई ताजमहल में काम कर रहे पुराने फोटोग्राफरों से सिर्फ़ 5 हज़ार रुपए हर साल लेती है, जबकि नए फोटोग्राफरों से 25 रुपए लिए जा रहें हैं. इसपर फोटोग्राफरों का कहना है कि जब इमारत एक है तो फीस अलग-अलग क्यों है.