सिटी न्यूज़

डेबिट कार्ड की क्लोनिंग कर खातों से रुपए निकालने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दसवीं फेल करता था क्लोनिंग

डेबिट कार्ड की क्लोनिंग कर खातों से रुपए निकालने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दसवीं फेल करता था क्लोनिंग
UP City News | Sep 26, 2021 11:17 AM IST

लखनऊ . उत्तरप्रदेश के लखनऊ में पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है. जिसमें पुलिस ने डेबिट कार्ड की एटीएम से क्लोनिंग करने वाले गिरोह को गिरफ्तार किया है. जिसमें दसवीं फेल आरोपी एटीएम कार्ड की क्लोनिंग करता था. गिरोह के चार सदस्यों को सरोजनीनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया है. ठगों से एटीएम कार्ड क्लोन करने के लिए इस्तेमाल होने वाली स्कीमर मशीन भी मिली है.

डीसीपी मध्य डॉ. ख्याति गर्ग के मुताबिक प्रतापगढ़ जेठवारा निवासी सूरज गौतम, संग्रामगढ़ निवासी अनिल सिंह, नसीराबाद निवासी धीरज सिंह और सलोन निवासी लाखन सिंह उर्फ अभिषेक को शनिवार सुबह पकड़ा गया. गिरोह में शामिल प्रतापगढ़ मेधांता निवासी सूरज सरोज उर्फ भूपेंद्र फरार है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है.

डीसीपी के मुताबिक शुक्रवार को अभिषेक यादव निवासी त्रिमूर्ति नगर सरोजनीनगर निवासी ने मुकदमा दर्ज कराया था. अभिषेक ने बताया था कि वह रुपये निकालने शांतिनगर मोड़ स्थित एक्सिस एटीएम पर गया था. तभी कुछ युवक पीछे से आ गए. उन्होंने एटीएम कार्ड बदलकर दूसरा कार्ड थमा दिया था. डीसीपी के अनुसार एक्सिस बैंक एटीएम में लगे कैमरों की फुटेज जांची गई. शनिवार चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लैपटॉप, कार्ड रीडर, स्कीमर मशीन, 13 ब्लैंक, 18 बैंकों के कार्ड मिले हैं.

ऐसे होती है कार्ड क्लोनिंग

1- कार्ड क्लोनिंग के लिए स्कैनिंग स्लॉट वाली डिवाइस का इस्तेमाल होता है.

2- मशीन दिखने में पीओएस मशीनों जैसी होती है.

3- जालसाज डिवाइस के जरिए ग्राहकों के क्रेडिट-डेबिट कार्ड स्वाइप करते हैं.

4- क्लोन कार्ड से भी अकाउंट से लेनदेन की जा सकती है.

एटीएम कार्ड क्लोनिंग से बचें

1- एटीएम पिन को दर्ज करें तो उसे ढक लें

2- मशीन पर कार्ड रीडर ढीला है तो इस्तेमाल न करें

3- बैंक ट्रांजेक्शन की तुरंत जानकारी एसएमएस पर लें

4- एटीएम मशीन कार्ड स्लॉट चेक करें. ढीला होने पर स्कीमर लगे होने की संभावना होती है.