सिटी न्यूज़

ताराग्राम यात्रा 2022: आगरा में ट्रांजिशन टूवार्ड्स सर्कुलर प्लास्टिक इकोनॉमी ने ध्यान आकर्षित किया

ताराग्राम यात्रा 2022: आगरा में ट्रांजिशन टूवार्ड्स सर्कुलर प्लास्टिक इकोनॉमी ने ध्यान आकर्षित किया
UP City News | Nov 24, 2022 10:50 AM IST

आगरा. डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स ग्रुप ने 22 नवम्बर 2022 को उत्तर प्रदेश के आगरा में ताराग्राम यात्रा 2022 के अंतर्गत एक क्षेत्रीय सेगमेंट को झंडी दिखा कर रवाना किया, जिसमें ‘एनेबलिंग सर्कुलर इकोनॉमी फॉर प्लास्टिक्स इन इंडिया: ए पाथवे टू रिसोर्स एफिशिएंसी' पर ध्यान केंद्रित किया गया है. इस दो दिवसीय क्षेत्र-भ्रमण करते हुए जानकारी हासिल करने में पूरे उत्तर भारत के हितधारकों ने यात्रियों के रूप में भाग लिया. इसने एक सर्कुलर प्लास्टिक अर्थव्यवस्था को तेजी से अपनाने और इसे सक्षम करने के लिए आवश्यक निवेश, नवाचार और बुनियादी ढांचे को व्यवस्थित करने के महत्व पर जोर दिया गया.

डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स (डीए) एक वैश्विक थिंक-टैंक और अग्रणी सामाजिक उद्यम है जो टिकाऊ समाधान तैयार करना और वितरित करना चाहता है ताकि वंचित समुदाय के लोग बेहतर जीवन जी सकें और उनको श्रम की गरिमा का आश्वासन दिया जा सके. इसके लिए डीए माइक्रो-उद्यमी इकोसिस्टम की संस्थाओं को जोड़ता है और उन मुद्दों पर महत्वपूर्ण रचनात्मक संवाद शुरू करता है. इस तरह ताराग्राम यात्रा हरित एवं समावेशी अर्थव्यवस्थाओं के सह-निर्माण में सहयोग करने के डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स के व्यापक लक्ष्य के अनुरूप है.

पिछले साल, आगरा नगर निगम ने द सोसाइटी फॉर टेक्नोलॉजी एंड एक्शन फॉर रूरल एडवांसमेंट (तारा) के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए. ताराडेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स (डीए) का इंक्यूबेशन इंजन है. इस समझौता ज्ञापन के तहत वैश्विक नॉन-प्रॉफिट संस्था, एलायंस टू एंड प्लास्टिक वेस्ट के सहयोग से शहर में प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन में सुधार किया जाएगा. इसने उन तौर-तरीकों की खोज की जिसमें संसाधनों के अधिक कुशलतापूर्वक उपयोग के लिए, विशेष रूप से निर्मल आगरा प्रोजेक्ट की पृष्ठभूमि में, एक राह बनाई जा सकती है.

यात्रा के दौरान आगरा में शामिल होने वाले यात्रियों ने प्लास्टिक कचरे के कलेक्शन, ट्रांसपोर्टेशन, छंटाई और प्रोसेसिंग करने के बारे में जानकारी प्राप्त की. इसके लिए डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स द्वारा प्रतिभागियों के बीच गतिविधियों की एक श्रृंखला और गहन चर्चा के लिए एक ब्रेकआउट सत्र का आयोजन किया गया. इस आयोजन का मुख्य आकर्षण आगरा नगर निगम के आयुक्त और सहायक आयुक्त के साथ बातचीत रही, जिन्होंने यात्रियों को नगर पालिका में अपशिष्ट उत्पादन को नियंत्रित करने के लिए निगम द्वारा किए गए कार्यों और संभावित अवसरों के बारे में बताया. इससे भारत में प्लास्टिक के लिए एक लीनियर अर्थव्यवस्था से सर्कुलर अर्थव्यवस्था मॉडलको अपनाने के लिए एक समग्र दृष्टिकोण हासिल करने में मदद मिलेगी. इसके अलावा, यात्रा के एक भाग के रूप में मटेरियल रिकवरी, लैंडफिल साइट और'स्मार्ट सिटी' कार्यालय का दौरा भी आयोजित किया गया.

पंकज भूषण, एन्वायर्नमेंट इंजीनियर, आगरा नगर निगम ने कहा कि "प्लास्टिक कचरा एक वैश्विक मुद्दा है और आगरा नगर निगम इस मुद्दे को हल करने के लिए प्रतिबद्ध है. आज हम डीए ग्रुप के साथ मिलकर ताराग्राम यात्रा का आयोजन कर रहे हैं. मैं उम्मीद करता हूँ कि यह वर्कशॉप एएनएन को प्लास्टिक कचरे से निपटने और इसे इंडस्ट्री के लिए अधिक उपयोगी बनाने और भारत की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने में मदद करेगा.

सुरेंद्र प्रसाद यादव, एडिशनल, नगर निगम (आगरा नगर निगम) ने बताया कि ''इस ताराग्राम यात्रा में, आगरा नगर निगम के प्रतिभागी शामिल थे और उन्होंने उस वैल्यू को समझा जो डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स (डीए) प्रदान कर सकता है और जिनसे आगरा को प्लास्टिक मुक्त बनाने में मदद मिल सकती है।''

एएनएन के चीफ इंजीनियर बीएल गुप्ता ने कहा कि ''डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स ग्रुप ने आगरा में विभिन्न पार्टनर एजेंसियों के साथ ताराग्राम यात्रा का आयोजन किया. एएनएन कचरे को संपत्ति में बदलने के लिए बहुत काम कर रहा है जैसे कि अपशिष्ट से ऊर्जा बनाने वाली यूनिट्स, एमआरएफ यूनिट्स की स्थापना.'

यात्रा के बारे में बताते हुए, ज़ीनत नियाज़ी, चीफ नॉलेज ऑफिसर, डीए और सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स ग्रुप ने कहा कि “ताराग्राम यात्रा का मुख्य लक्ष्य नागरिकों को हमारे दौर की सबसे गंभीर जमीनी समस्याओं के प्रति संवेदनशील बनाना है. यात्रियों ने आगरा में अपने क्षेत्र-भ्रमण के अनुभव से सीखा है. इस यात्रा से यात्रियों ने खास तौर पर यह सीखा कि कैसे प्रौद्योगिकी और सामुदायिक प्रयासों को मिलाकर प्लास्टिक कचरे की चुनौती का समाधान किया जा सकता है. उन्होंने यह भी समझा है कि कैसे सरकार की पहलकदमी बदलाव ला सकती है. यात्रियों ने अपनी यात्रा के दौरान जो कुछ सीखा है, उसका उपयोग साथ मिलकर इस संदेश को फैलाने के लिए किया जा सकता हैकि हमारे शहरों को और अधिक प्लास्टिक में डूबने से बचाने के लिए क्या किया जाना चाहिए.

डेवेलपमेंट अल्टरनेटिव्स ग्रुप के सीईओ श्राष्तांत पतारा ने कहा कि "डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स भारत में प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन से संबंधित चर्चा और कार्रवाई का नेतृत्व कर रहा है, और इस क्षेत्र में हमारे प्रयास 'परिवर्तनकारी'’ बदलाव लाने के लिए हैं. इस यात्रा में शामिल यात्रियों ने आगरा में शुरू किए गए अद्वितीय, अभिनव और उद्यमशीलता मॉडल की खोज करने और प्लास्टिक वैल्यू चेन में सक्रिय विभिन्न संस्थानों के परिप्रेक्ष्य से चुनौतियों को समझने में स्वयं को पूरी तरह से शामिल कर दिया.

क्षेत्र भ्रमण से समझ बनाने के बाद, यात्री सार संगम में भागीदारी करने के लिए दिल्ली लौटेंगे, जहां ताराग्राम यात्रा 2022 के तहत तीनों भौगोलिक क्षेत्रों के यात्रियों द्वारा क्षेत्र से मिले अनुभवों के सार-संक्षेप साझा करने का आयोजन किया जाएगा. इससे मिली सीख नीतिगत स्तर पर समझ बनाने और उसके अनुसार आगे चलने की समझ प्रदान करेगी.ताराग्राम यात्रा प्रोग्राम का आयोजन डेवलपमेंट अल्टरनेटिव्स ग्रुप कर रहा है, और यह ग्रीन इकॉनॉमी कोअलिशन और यूरोपीयन यूनियन द्वारा समर्थित है.