सिटी न्यूज़

हिमाचल की दवा नियंत्रक प्राधिकरण टीम पहुंची आगरा, नकली दवा बनाने के मामले में कर रही है जांच

हिमाचल की दवा नियंत्रक प्राधिकरण टीम पहुंची आगरा, नकली दवा बनाने के मामले में कर रही है जांच
UP City News | Nov 25, 2022 01:26 PM IST

आगरा. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की राज्य दवा नियंत्रक प्राधिकरण की टीम नकली दवाइयां बनाने और बेचने के माफिया को लेकर आगरा पहुंची. आगरा (Agra News) में शुक्रवार को टीम कमला नगर की रामकुंज कॉलोनी निवासी मोहित बंसल को लेकर फव्वारा दवा बाजार आई. उसे हिमाचल प्रदेश के बद्दी में नकली दवाओं के साथ पकड़ा गया था. यहां मोहित बंसल की एमएच फार्मा नाम से फर्म है. इसे स्थानीय औषधि विभाग की टीम ने सील किया, टीम फर्म में रखी दवाओं की जांच करेगी.

हिमाचल प्रदेश के बद्दी में पकड़ा गया कमला नगर की रामकुंज कॉलोनी निवासी मोहित बंसल अपनी फर्म एमएच फार्मा फववारा के जरिए 11 राज्यों में नकली दवाओं की सप्लाई कर रहा था. बद्दी में फैक्ट्री और गोदाम बन गए थे. वहां से वह कार से आगरा दवाइयां लाता था, एमएच फार्मा के नाम से बिल बनाकर ब्रांडेड कंपनियों की नकली दवाओं की सप्लाई करता था लेकिन, स्थानीय औषधि विभाग को भनक तक नहीं लगी. मोहित बंसल के साथ फव्वारा दवा बाजार के दवा विक्रेता व फेरीवाले भी शामिल हैं.

इस मामले में मेडिसिन विभाग की टीम अपने स्तर से कोई जांच नहीं कर रही है. बद्दी स्थित मोहित बंसल के गोदाम से भारी मात्रा में दवाइयां जब्त की गईं, आधा दर्जन से अधिक ड्रग इंस्पेक्टर इनकी गिनती में जुटे रहे. स्टेट ड्रग कंट्रोलर नवनीत मरवाहा ने बताया कि करीब सवा करोड़ की दवाएं बरामद की गई हैं, जिस फैक्ट्री में दवाइयां बनाई जा रही थीं, उसे सील कर दिया गया है.

रिमांड पर मोहित बसाल ने औषधि विभाग व पुलिस को बताया कि उसने बद्दी में बंद पड़ी फैक्ट्री को किसी से खरीद कर जिला उद्योग केंद्र से अपने नाम दर्ज करा लिया है. दवा बनाने की मशीन खरीदने और बेचने का कारोबार शुरू किया. पांच महीने पहले मोटी कमाई के लिए उसने सिप्ला, यूएसवी और दूसरी कंपनियों की दवाइयां बनाना शुरू किया। कच्चा माल और पैकिंग उत्तराखंड से खरीदते थे.