सिटी न्यूज़

आगरा: मुहर्रम में दिखी आजादी का अमृत महोत्सव की झलक, अलम के जुलूस में तिरंगा झंडा लेकर चले मुस्लिम

आगरा: मुहर्रम में दिखी आजादी का अमृत महोत्सव की झलक, अलम के जुलूस में तिरंगा झंडा लेकर चले मुस्लिम
UP City News | Aug 09, 2022 05:17 PM IST

आगरा. देशभर के मुस्लिम इंसानियत की खातिर अपने 72 साथियों के साथ कुर्बान होने वाले हजरत इमाम-ए-हुैसन की याद में मुहर्रम मना रहे हैं. वहीं हम मुल्क के आजाद होने पर आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं. सभी जगहों पर मुल्क को आजाद कराने के लिए शहादत का जाम पीने वालों को याद किया जा रहा है. ऐसा सिर्फ किसी मीटिंग में या सियासी कार्यक्रमों में नहीं बल्कि मुहर्रम में भी हो रहा है. कहा जा सकता है कि मुहर्रम में आजादी का अमृत महोत्सव की एक झलक दिखाई दे रही है. ऐसा आगरा के सेव का बाजार में हुआ. जहां पर अलम की कदीमी यानी परंपरागत जुलूस निकाला गया. इसमें लोगों के साथ में हरे रंग के इस्लामी झंडे थे तो हिंदुस्तान की आन-बान और शान कहे जाने वाला तिरंगा भी. जब इस बारे में पूछा गया तो कहा कि हमें हुसैन भी प्यारे और मुल्क भी. इंसानियत और इस्लाम के लिए हजरत इमाम हुसैन ने तो भारत की आजादी के लिए स्वतंत्रता सैनानियों ने कुर्बानियां दी. इनमें से किसी को भी नहीं भूला जा सकता...

खानकाह के नायब सज्जादानशीं सैयद फैज अली शाह ने कहा कि अब हम आजादी के 75वें साल में प्रवेश कर गए हैं तो लाजिमी हैं कि उन शहीदों को जरूर याद करें, जिनकी वजह से हम खुली हवा में सांस ही नहीं ले रहे बल्कि आजाद घूम भी रहे हैं. मुल्क को फिरंगियों से आजाद कराने के लिए हमारे अनगिनत बलिदानियों ने शहादत का जाम पिया है, हम उन्हें कैसे भूल सकते हैं. मुहर्रम का मौका भी शहादत को याद करने का होता है. ये हमारे लिए बड़े ही फख्र की बात है कि मुल्क आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है. मौका मुहर्रम के बिल्कुल नजदीक का है तो सभी ने नवासा-ए-नबी हजरत इमाम हुसैन की शहादत को याद करने के साथ ही मुल्क को आजाद कराने वालों को भी याद किया.

मुहर्रम की नौ तारीख यानी सोमवार को अलम मुबारक का गम-ए-हुसैन जुलूस खानकहा आलिया कादरिया नियाजिया मेवा कटरा सेव का बाजार से बाद नमाज असर बरादम किया गया. इस दौरान खिराजे अकीदत पेश किया गया. जुलूस के दौरान अखाड़ों के कलाकारों ने करतब दिखाए. जुलूस मेवा कटरा शहर कॉन्प्लेक्स से फव्वारा हॉस्पिटल रोड, गुड़ की मंडी, फुलट्टी बाजार, चिड़ीमार टोला, पाए चौकी से होता हुआ कटरा द्वकेयान फूलो बाले ताजिया पर हाज़िरी देकर खानकाह वापस हुआ. जुलूस का जगह-जगह इस्ताकबाल किया गया. इस दौरान युवाओं की हाथों में इस्लामी झंडे के अलावा तिरंगा भी नजर आया. युवाओं ने कहा कि हमें अपने वतन से मुहब्बत है और मौका आजादी के अमृत महोत्सव का है तो जुलूस में तिरंगे को भी शामिल कर लिया.
मुहर्रम में दिखी आजादी का अमृत महोत्सव की झलक, अलम के जुलूस में तिरंगा झंडा लेकर भी मुस्लिम चले. लोगों ने कहा कि हमें हुसैन भी प्यारे और मुल्क भी. इस्लाम के लिए हजरत इमाम हुसैन ने तो आजादी के लिए स्वतंत्रता सैनानियों ने दी थी कुर्बानियां

Agra News, Agra Hindi News, Agra Latest News, Muharram in Agra, Muharram, Muharram News, Tajia in Agra, UP News, UP Hindi News, UP Latest News, Muharram in UP, Tajiyadari,
हाथों में तिरंगा लेकर अलम के जुलूस में शामिल हुए मुस्लिम समुदाय के लोग

-भारतीय मुस्लिम विकास परिषद के अध्यक्ष समी आगाई ने कहा कि आगरा में ऐसा पहली बार हुआ है कि मुहर्रम के जुलूस में तिरंगे को शामिल किया गया है. ये अच्छी बात है कि हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं. हमारे देश के लाखों लोगों ने मुल्क को आजाद कराने के लि अपरी कुर्बानी दी थी, उन्हें हर हिंदुस्तानी को याद करना चाहिए...

-भाजपा के सीनियर नेता कुंवर अख्तर कप्तान ने कहा कि आजादी तो सभी के लिए है. ऐसा तो है नहीं कि कोई एक वर्ग अभी भी गुलाम हो. देश की आजादी में सभी ने अपना बलिदान दिया. ये अच्छा और सुखद समाचार है कि मुहर्रम के जुलूस में तिरंगे को शामिल किया है. इसे किसी पार्टी या मजहब के साथ जोड़कर नहीं देखना चाहिए.