सिटी न्यूज़

आगरा: बीवीएम निधि कंपनी ख़ाता धारको के 15.50 लाख रुपये डकारने के बाद फरार

आगरा: बीवीएम निधि कंपनी ख़ाता धारको के 15.50 लाख रुपये डकारने के बाद फरार
UP City News | Jun 23, 2022 08:44 AM IST

आगरा. उत्तर प्रदेश के बाह में बीबीएम निधि प्राइवेट लिमिटेड कंपनी अपने सैकड़ो खाता धारकों के लाखों रुपये डकार गई है और कंपनी के डायरेक्टर अपने दफ्तर को रातोंरात खाली करके फरार हो गया. कंपनी के फरार होने से उपभोक्ताओं की नींद उड़ गई है. अब उपभोक्ताओं को अपने फंसे हुए लाखों रुपये डूबने की आशंका सता रही है. उपभोक्ता पिछले कई दिनों से पैसों की मांग करते हुए डायरेक्टर के घर चक्कर काट रहे हैं. चक्कर काटने के बाद भी किसी को भी एक रुपया नहीं मिला, जिस पर एकत्र हुए सभी उपभोक्ताओं ने एसएसपी आगरा व थाना बाह में लिखित शिकायत करते हुए आरोपियों खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए पैसा वापस दिलवाने की गुहार लगाई है.

थाना पिनाहट क्षेत्र के कस्बा भदरौली निवासी उमेश कुमार व जितेंद्र कुमार पिप्पल ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय आगरा सुधीर कुमार व थाना प्रभारी बाह संजीव शर्मा को एक लिखित प्रार्थना पत्र देते हुए बताया है कि मंजेश यादव पुत्र पंचम सिंह यादव निवासी नगूपुरा थाना पिढौरा,अनिल परिहार पुत्र राजवीर सिंह परिहार निवासी विजयगढी थाना पिढौरा बृजेश कुमार यादव पुत्र सुगर सिंह निवासी किन्दर पुरा थाना बाह ने कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत स्टेट बैंक बाह के सामने सन 2017 में बीवीएम निधि लिमिटेड कम्पनी के नाम से कार्यालय खोला था. उक्त सभी लोग उस संस्था डायरेक्टर हैं.

agra news, agra finance company abscond, bah news, bah hindi news, up city news, up hindi news, up latest news, bvm nidhi ltd, bvm nidhi ltd has cheated
ख़ाताधारकों ने बीवीएम निधि कंपनी के खिलाफ शिकायत पत्र एसएसपी और संबंधित थाना में दिया.

सभी लोगों ने क़स्बा भदरौली व ज़रार के दुकानदारों व फुटपाथों पर रेड्डी लगाने वाले गरीब लोगों को लुभावाने सपने दिखाकर बचत खाते खुलवाकर ग्राहकों से लाखों रुपये जमा करा लिए. ग्राहकों की आईडी पूरी जमा हो जाने पर समय सीमा पर भुगतान करने पर आफिस बंद कर दिया है. ग्राहक आफिस के चक्कर लगालगा कर थक गए हैं. संस्था के एजेन्ट उमेश कुमार व जितेंद्र पिप्पल ने एसएसपी आगरा व कोतवाल बाह से बीवीएम निधि लिमिटेड के डायरेक्टर मंजेश यादव व अनिल परिहार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई कर ग्राहकों के बचत खाते में जमा 15 लाख 50 हजार रुपये वापस दिलवाए जाने की मांग की है. पीड़ित शिकायतकर्ताओ में जितेन्द्र कुमार,उमेश कुमार,धर्मेन्द्र तौमर, राजवीर सविता,मनोज राठौर, अम्बेश, उर्मिला देवी, श्याम बाबू, नरेंद्र वर्मा, श्याम सुंदर प्रजापति, भारत सिंह, कालीचरन औझा, कन्हैया, सोनू सक्सेना आदि लोग मौजूद रहे.