गोरखपुर:'फेक को फेंक' मुहिम को एथलीट्स और फिटनेस ट्रेनर वैशाली भोरई ने दिया समर्थन

Gorakhpur News, CM Yogi in Gorakhpur, G Z I Pvt Ltd, Athlete Vaishali Bhorai, UP City

गोरखपुर. जी जेड आई प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक इंजीनियर माज खान ने फेक को फेक के खिलाफ पिछले कई सालों से मुहिम चला रहे हैं. इस मुहिम का समर्थन एथलीट्स  व फिटनेस ट्रेनर वैशाली भोरई और कांटेस्ट प्रो कोच यूनुस आई शेख ने सराहा है. शनिवार को गोलघर सिनेमा रोड सन प्लाजा के पास जी जेड आई के शोरूम पर फेक को फेक जागरूकता को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एसपी ट्रैफिक डॉ. महेंद्र पाल सिंह व विशिष्ट अतिथि एथलीट्स चैंपियन फिटनेस ट्रेनर वैशाली भोरई व कांटेस्ट प्रोपोज़ यूनुस आई शेख रहे.

चंद पैसे के फायदे के लिए सेहत के साथ किया जा रहा  खिलवाड़ 

जागरूकता कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि एसपी ट्रैफिक डॉ. महेंद्र पाल सिंह ने कहा कि फेक को फेक के खिलाफ जो मुहिम चलाई जा रही है वह काफी सराहनीय है क्योंकि डुप्लीकेट और नॉन ब्रांडेड कंपनियां बाजार में चंद पैसे के फायदे के लिए लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा हैं. ऐसे में युवा पीढ़ी को सतर्क और सजग रहकर अपने स्वास्थ्य के बेहतरी का चयन करना चाहिए. कार्यक्रम में आए सभी बॉडी बिल्डरों को हम धन्यवाद देंगे कि जो स्पोर्ट्स के क्षेत्र में कार्य करके देश का नाम रोशन कर रहे हैं.

काले कारोबार पर लगे रोक

एथलीट व फिटनेस ट्रेनर वैशाली भोरई में कहां की शरीर को बेहतर से देने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है नियमित व्यायाम और खानपान के जरिए अपने शरीर को सेप में तैयार किया जाता है. ऐसे में हम जिन प्रोटीन प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं अगर वह डुप्लीकेट व नान ब्रांडेड कंपनी की होते हैं तो उसमें डुप्लीकेसी की संभावना बनी रहती है ऐसे में इसके सेवन करने से स्वास्थ्य को हानि भी पहुंच सकता है. जी जेड आई द्वारा जो फेक को फेक के खिलाफ मुहिम चलाई गई है उसके प्रति लोग अब जागरूक हो रहे हैं सरकार से हमारी मांग है कि ऐसे काले कारोबारी जो पैसे के लालच में लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की जरूरत है.

गलत प्रोटीन प्रोडक्ट अंदर के पार्ट हो जाते हैं डेमैज

कांटेस्ट प्रो कोच यूनुस आई शेख ने कहा कि गोरखपुर आकर हम लोगों को बहुत खुशी हो रही है यह मुख्यमंत्री का शहर है और शहर के विकास को देखकर बड़ी खुशी हो रही है. जी जेड आई द्वारा जो फेक को फेक को लेकर जो जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है वह काफी सराहनीय प्रयास है, क्योंकि खिलाड़ी को अपने शरीर के फिजिकल फिटनेस को तैयार करने के लिए कड़ी मेहनत करता है. अगर गलत प्रोटीन प्रोडक्ट का वह इस्तेमाल करता है तो उससे उसका शरीर बजाए सुंदर सुडोल दिखने की अंदरूनी पार्ट्स डैमेज हो जाते हैं. ऐसे में डुप्लीकेट प्रोडक्ट्स बाजार में पड़े पड़े हैं उनसे सावधान रहने की जरूरत है.कार्यक्रम के अंत में जी जेड आई प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक इंजीनियर माज खान ने कार्यक्रम में आए सभी अतिथियों को धन्यवाद दिया. कहा कि हमारे इस मुहिम में आप सभी लोगों ने साथ दिया और आगे भी आप लोगों का साथ और आशीर्वाद बना रहेगा यही ईश्वर से कामना करता हूं.